जो हुकुम करता है वो इल्तज़ा भी करता है आसमान कही झुका भी करता है और तू बेवफा है तो ये खबर भी सुन ले इन्तेज़ार मेरा कोई वहा भी करता है
3
Add a comment...