Profile

Cover photo
BBC Hindi
840,314 followers|45,225,933 views
AboutPosts

Stream

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
नेपाल में भूकंप के बाद वहाँ भारतीयों की मौजूदगी को लेकर काफ़ी चर्चा रही है. देखिए नेपाल को भारत ने कितनी मदद भेजी है- http://bbc.in/1zBEaYH
 ·  Translate
1
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
'हम नींद में थे, तभी गाड़ी चढ़ गई' http://bbc.in/1c80Ogt
 ·  Translate
हिट एंड रन मामले के एक पीड़ित से बीबीसी ने की बातचीत.
1
आशुतोष ओझा's profile photo
 
बहुचर्चित ‘हिट एंड रन मामले’ में कोर्ट ने सलमान खान को दोषी करार दिया है। उन पर लगे सभी आरोप सही साबित हो गए हैं। इस मामले में कोर्ट ने उन्हें पांच साल की सजा सुनाई है। साथ ही उन पर 25 हजार रू. का जुर्माना भी लगाया गया है। ये केस तो सुर्खियों में है, लेकिन आज उनको जेल की दहलीज तक पहुँचाने वाला एक शख्श ऐसा है जो हम लोगों के बीच नहीं है। ……… वह शख्श थें "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल"।

किसी को याद नहीं होगा कि रवींद्र पाटिल सलमान खान से जुड़े ‘हिट एंड रन’ मामले में एक प्रमुख गवाह था। यही वो शख्स था, जो इस केस के बारे में सब कुछ जानता था। इस केस के चश्मदीद गवाह रहे रवींद्र पाटिल आज इस दुनिया में नहीं है। वह ही शख्श था, जिसने पुलिस को सबसे पहले सूचित किया था और वही मुख्य गवाह होने के कारण उस पर स्टेटमेंट बदलने के लिए दवाब डाला गया, ताकि सलमान खान जेल जाने से बच सके। लेकिन उसने अपनी आखिरी सांस तक बयान नहीं बदला। वींद्र को बयान बदलने के लिए लालच और धमकी भी दी गई। यहां तक कि पुलिस ने उसके परिवार को काफी परेशान भी किया।

‘हिट एंड रन मामले’ में जुड़ने के बाद से ही रवींद्र कोर्ट-कचहरी तथा उस पर वकीलों के दबाव और अधिकारियों के भी उस पर दबाव के चलते परेशान हो गया था। वह कोर्ट में वकीलों के सवालों के सवाल जवाब तथा लगातार मिल रही धमकियों से चलते वह डिप्रेशन में चला गया, जिससे उसकी नौकरी पर भी प्रभाव पड़ा । कई बार डिप्रेशन के कारण नौकरी पर न पहुँच पाने के चलते सीनियर पुलिस अधिकारियों ने नौकरी से अनुपस्थित रहने का आरोप लगाकर रवींद्र को नौकरी से निकाल दिया था। नौकरी से निकाल देने के बाद भी पुलिस ने रवींद्र का पीछा नहीं छोड़ा था। इसलिए वह मुंबई से कहीं और चला गया था। परिवार के अनुसार वह अक्सर चोरी-छिपे अपनी पत्नी व परिवार से मिलने एक-दो दिन के लिए मुंबई आया करता था।

एक दो बार बीमारी के चलते पेशी के दौरान कोर्ट में अनुपस्थित रहने के आरोप में रवींद्र को जेल भेज दिया गया। जेल में भी उसे अन्य कैदियों से अलग रखा गया । एक बार उसे सीरियल किलर्स के साथ ही रखा गया। रवींद्र ने इसके लिए आवेदन भी किया था कि उसे सीरियल किलर के साथ न रखा जाए, लेकिन कोर्ट ने उसके इस आवेदन को रद्द कर दिया था।

इस केस में जेल से बाहर आने के बाद परिवार वालों ने उसे बयान बदलने के लिए काफी समझाया, क्योंकि पुलिस परिवार को परेशान कर रही थी। लेकिन इस रवींद्र ने उनकी बात नहीं मानी, और अपना बयान नहीं बदला।

रवींद्र की मौत 2007 में सेवरी म्युनिसिपल अस्पताल में हुई। उस दौरान वह नर्वस ब्रेक डाउन का शिकार हो गया था, तथा उसका जीवन भीख मांग कर चल रहा था। जब उसने अंतिम सांस ली, तब उसके पास परिवार का भी कोई व्यक्ति नहीं था।

आज हमारे देश की ये कड़वी सच्चाई है, कि जिस पुलिस "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल" के बयान ने खुद को कानून से ऊपर समझने वाले को सजा दिलवाई, वह खुद वरिष्ठ अधिकारियों के शोषण, विभाग के द्वारा उसके उत्पीड़न, झूठे आरोप में बर्खास्तगी, जेल की सजा, बीमारी, भुखमरी और लावारिस मौत मर गया, लेकिन जिस व्यक्ति के खिलाफ वह अंत तक अपने बयान पर कायम रहा, उस व्यक्ति को सजा सुनाये जाने के तीनं घण्टे के अंदर जमानत मिल गयी, क्योंकि वो एक पैसेवाला था........ लेकिन कानून पर आस्था रखने वाले "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल" का ये देश जरूर आभारी रहेगा, क्योंकि वो जीवन के अंत तक पैसे के दबाव में नहीं आया.……🚩🚩🚩मंडण
 ·  Translate
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
लालू-नीतीश की मुलायम से मंत्रणा http://bbc.in/1F6Nnui
 ·  Translate
बिहार चुनाव पर बात, ब्रिटेन में मतदान और अन्य ख़बरें.
1
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
इसराइल: गठबंधन सरकार का रास्ता साफ़ http://bbc.in/1c7EBio
 ·  Translate
आख़िरी वक़्त में दक्षिणपंथी पार्टी से गठबंधन. पूर्व सहयोगी नाराज़
5
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
सलवा जुडुम फिर से लड़ेगा माओवाद के ख़िलाफ़ http://bbc.in/1F6ix5a
 ·  Translate
छत्तीसगढ़ में माओवादियों के लिए जन जागरण अभियान चलाने की घोषणा.
4
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
क्रिस गेल के तूफ़ान में उड़ गया पंजाब http://bbc.in/1c6m2LD
 ·  Translate
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने किंग्स इलेवन पंजाब को 138 रनों से हराया.
3
Add a comment...
Have them in circles
840,314 people
Ritu Nayal's profile photo
RAJ SAW's profile photo
Mritunjay Kumar Mishra Mahi's profile photo
raveeshdr.h ravi's profile photo
yogesh dulal's profile photo
mukesh bhargaw's profile photo
Vijay Kumar's profile photo
Aqeel Ahmed's profile photo
Naveen Kumar's profile photo

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
बॉलीवुड का 'इमोशनल अत्याचार' http://bbc.in/1F6Q7YO
 ·  Translate
सलमान ख़ान मामले में फ़िल्म इंडस्ट्री की आई टिप्पणियों पर ज़ुबैर अहमद का ब्लॉग.
1
आशुतोष ओझा's profile photo
 
बहुचर्चित ‘हिट एंड रन मामले’ में कोर्ट ने सलमान खान को दोषी करार दिया है। उन पर लगे सभी आरोप सही साबित हो गए हैं। इस मामले में कोर्ट ने उन्हें पांच साल की सजा सुनाई है। साथ ही उन पर 25 हजार रू. का जुर्माना भी लगाया गया है। ये केस तो सुर्खियों में है, लेकिन आज उनको जेल की दहलीज तक पहुँचाने वाला एक शख्श ऐसा है जो हम लोगों के बीच नहीं है। ……… वह शख्श थें "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल"।

किसी को याद नहीं होगा कि रवींद्र पाटिल सलमान खान से जुड़े ‘हिट एंड रन’ मामले में एक प्रमुख गवाह था। यही वो शख्स था, जो इस केस के बारे में सब कुछ जानता था। इस केस के चश्मदीद गवाह रहे रवींद्र पाटिल आज इस दुनिया में नहीं है। वह ही शख्श था, जिसने पुलिस को सबसे पहले सूचित किया था और वही मुख्य गवाह होने के कारण उस पर स्टेटमेंट बदलने के लिए दवाब डाला गया, ताकि सलमान खान जेल जाने से बच सके। लेकिन उसने अपनी आखिरी सांस तक बयान नहीं बदला। वींद्र को बयान बदलने के लिए लालच और धमकी भी दी गई। यहां तक कि पुलिस ने उसके परिवार को काफी परेशान भी किया।

‘हिट एंड रन मामले’ में जुड़ने के बाद से ही रवींद्र कोर्ट-कचहरी तथा उस पर वकीलों के दबाव और अधिकारियों के भी उस पर दबाव के चलते परेशान हो गया था। वह कोर्ट में वकीलों के सवालों के सवाल जवाब तथा लगातार मिल रही धमकियों से चलते वह डिप्रेशन में चला गया, जिससे उसकी नौकरी पर भी प्रभाव पड़ा । कई बार डिप्रेशन के कारण नौकरी पर न पहुँच पाने के चलते सीनियर पुलिस अधिकारियों ने नौकरी से अनुपस्थित रहने का आरोप लगाकर रवींद्र को नौकरी से निकाल दिया था। नौकरी से निकाल देने के बाद भी पुलिस ने रवींद्र का पीछा नहीं छोड़ा था। इसलिए वह मुंबई से कहीं और चला गया था। परिवार के अनुसार वह अक्सर चोरी-छिपे अपनी पत्नी व परिवार से मिलने एक-दो दिन के लिए मुंबई आया करता था।

एक दो बार बीमारी के चलते पेशी के दौरान कोर्ट में अनुपस्थित रहने के आरोप में रवींद्र को जेल भेज दिया गया। जेल में भी उसे अन्य कैदियों से अलग रखा गया । एक बार उसे सीरियल किलर्स के साथ ही रखा गया। रवींद्र ने इसके लिए आवेदन भी किया था कि उसे सीरियल किलर के साथ न रखा जाए, लेकिन कोर्ट ने उसके इस आवेदन को रद्द कर दिया था।

इस केस में जेल से बाहर आने के बाद परिवार वालों ने उसे बयान बदलने के लिए काफी समझाया, क्योंकि पुलिस परिवार को परेशान कर रही थी। लेकिन इस रवींद्र ने उनकी बात नहीं मानी, और अपना बयान नहीं बदला।

रवींद्र की मौत 2007 में सेवरी म्युनिसिपल अस्पताल में हुई। उस दौरान वह नर्वस ब्रेक डाउन का शिकार हो गया था, तथा उसका जीवन भीख मांग कर चल रहा था। जब उसने अंतिम सांस ली, तब उसके पास परिवार का भी कोई व्यक्ति नहीं था।

आज हमारे देश की ये कड़वी सच्चाई है, कि जिस पुलिस "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल" के बयान ने खुद को कानून से ऊपर समझने वाले को सजा दिलवाई, वह खुद वरिष्ठ अधिकारियों के शोषण, विभाग के द्वारा उसके उत्पीड़न, झूठे आरोप में बर्खास्तगी, जेल की सजा, बीमारी, भुखमरी और लावारिस मौत मर गया, लेकिन जिस व्यक्ति के खिलाफ वह अंत तक अपने बयान पर कायम रहा, उस व्यक्ति को सजा सुनाये जाने के तीनं घण्टे के अंदर जमानत मिल गयी, क्योंकि वो एक पैसेवाला था........ लेकिन कानून पर आस्था रखने वाले "कॉन्सटेबल रवींद्र पाटिल" का ये देश जरूर आभारी रहेगा, क्योंकि वो जीवन के अंत तक पैसे के दबाव में नहीं आया.……🚩🚩🚩मंडण
 ·  Translate
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
'इसे प्यार नहीं बलात्कार कहते हैं!' http://bbc.in/1F6OIBv
 ·  Translate
'रश्मि' 'पति के हाथों हुए अपने बलात्कार' के लिए इंसाफ़ की मांग कर रही है.
3
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
चुनावों के सात हफ़्तों के बाद इसरायल में गठबंधन सरकार बनाने की तैयारी. http://bbc.in/1zD78HC
 ·  Translate
4
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
ब्रिटेन: अंतिम चरण में चुनाव प्रचार http://bbc.in/1F6lYbY
 ·  Translate
उन मतदाताओं को समझाने की कोशिश जो किसी के भी पक्ष में जा सकते हैं
3
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
फुटबॉल मैच में आत्मघाती हमला, चार की मौत http://bbc.in/1c6xIxT
 ·  Translate
पाकिस्तान में एक गांव के स्कूल में फुटबॉल मैच के दौरान आत्मघाती हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया
4
amit rastogi's profile photo
 
गवाह सावधान
दिल्ली की अदालतो से गवाह हो जाये सावधान
दिल्ली कडकड डुमा कोर्ट मे गवाह कहते कुछ है
कोर्ट गवाही मे लिखती कुछ है इगलिश मे
फायदा सीधा अपराधियो को ,
कई कोर्ट सच को हराना चाहती है , सच पढ़ने के लिए मेरी फोटो पर किल्क करे और जाने अदालतो मे हो रही कैसे हेराफेरी ?
 ·  Translate
Add a comment...

BBC Hindi

Shared publicly  - 
 
गेल के तूफ़ान में उड़ा किंग्स इलेवन पंजाब.
http://bbc.in/1Pp7EuG
 ·  Translate
17
Add a comment...
People
Have them in circles
840,314 people
Ritu Nayal's profile photo
RAJ SAW's profile photo
Mritunjay Kumar Mishra Mahi's profile photo
raveeshdr.h ravi's profile photo
yogesh dulal's profile photo
mukesh bhargaw's profile photo
Vijay Kumar's profile photo
Aqeel Ahmed's profile photo
Naveen Kumar's profile photo
Story
Tagline
बीबीसी के इस गूगल+ पन्ने आपको मिलेगी दुनिया भर की दिलचस्प ख़बरें, साइंस, टेक्नॉलॉजी से लेकर खेल और मनोरंजन की ख़बरें. इस मल्टीमीडिया पेज पर ऑडियो, वीडियो भी देखिए, सुनिए. गूगल+ पन्ने पर आप अक्सर होने वाले गूगल हैंगआउट भी लाइव देख सकते हैं.
Introduction
Mission

दुनिया भर से संतुलित और विश्वसनीय समाचार-विचार अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचाना.

Description

बीबीसी हिंदी ऑनलाइन पर
24x7 यानी चौबीसों घंटे और सातों दिन उपलब्ध है. पत्रकारों की टीम हर वक़्त अपने पाठकों के लिए दुनिया भर से निष्पक्ष और प्रामाणिक ख़बरें जुटाती रहती है. इसके अलावा विश्लेषण और फ़ीचर भी www.bbchindi. com पर उपलब्ध है.

About

बीबीसी हिंदी के अनुभवी रिपोर्टर दुनिया और भारत के सभी हिस्सों में मौजूद हैं जो बिना किसी व्यावसायिक दबाव के लोगों तक सही जानकारी और मल्टीमीडिया कंटेट पहुँचाने के लिए काम करते हैं.

बीबीसी पिछले सात दशकों से संतुलित, निष्पक्ष और विश्सनीय पत्रकारिता लोगों तक पहुँचा रहा है, टेक्नॉलॉजी और लोगों की पसंद में बदलाव के अनुरुप बीबीसी ने अपनी कार्यशैली को ढाला है, लेकिन सामग्री का सच्चा और सटीक होना बीबीसी का लक्ष्य हमेशा रहा है.

बीबीसी हिंदी रेडियो, ऑनलाइन, सोशल मीडिया और टीवी के ज़रिए भारत और दुनिया के अनेक हिस्सों में करोड़ों लोगों तक पहुँचता है, बीबीसी की डिजिटल सामग्री की पहुँच तेज़ी से बढ़ रही है.

गूगल के इस पन्ने पर बीबीसी हिंदी और अंग्रेज़ी आपके लिए चुनिंदा ख़बरें और विश्लेषण लेकर आता है. ये आपका मंच है. इसका इस्तेमाल कृपया एक ज़िम्मेदार पाठक के तौर पर करिए. आपके कमेंट हमारे लिए काफ़ी बहुमूल्य हैं और यहाँ बहस को एक अलग नज़रिया देते हैं.

मगर यहाँ स्पैम या आपत्तिजनक संदेश पोस्ट न करें. ऐसे मैसेज डिलीट कर दिए जाएँगे.

Contact Information
Contact info
Phone
+91 11 2340 1600
Email