Profile

Cover photo
Alpana Verma अल्पना वर्मा
Lives in India
1,250 followers|2,828,708 views
AboutPostsPhotosYouTube+1's

Stream

 
कवयित्री सुभद्रा कुमारी चौहान जी द्वारा लिखी कविता 'झाँसी की रानी'-कविता का पाठ .
 ·  Translate
2
Add a comment...
 
एक फ़िल्मी  ग़ज़ल --
 ·  Translate
9
Shashi Saini's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photo
2 comments
 
+Shashi Saini ji,,,Thanks a lot for appreciating my efforts :)!
Add a comment...
7
Shashi Saini's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photo
2 comments
 
Thanks Shashi for your supportive and encouraging words.धन्यवाद शशि !
 ·  Translate
Add a comment...
10
Gopal Jaiswal's profile photoReetika Tandon's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photo
4 comments
 
Jee bilkul.Wikipedia mei details hain...check it -.>Calcutta Jain Temple (also called Parshwanath Temple) is a Jain temple at Badridas Temple Street is a major tourist attraction in Kolkata (Calcutta), India. The temple was built by a Jain named Rai Badridas Bahadoor Mookim in 1867. Pratishtha was done by Sri Kalyansurishwarji Maharaj.[courtesy:wikipedia]
Add a comment...
7
प्रेम सिंह कुंवर's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photoLokesh Singh's profile photo
3 comments
 
मार्मिक भाव व्यक्त करती हुयी कुछ सोचने पर विवश करती कहानी। .
 ·  Translate
Add a comment...
 
माया ....तुम अभिशप्त हो !
 ·  Translate
ग़लती से क्लिक हुई छाया एक साए की  आज सागर का किनारा ,गीली रेत,बहती हवा कुछ भी तो रूमानी नहीं था. बल्कि उमस ही अधिक उलझा रही थी माया और लक्ष्य ! तुम मुक्त हो माया! लक्ष्य ने कहा। मुक्त? हाँ ,मुक्त ! ऐसा क्यों कहा लक्ष्य? माया ...
4
Add a comment...
 
कोलकाता के कुछ धार्मिक स्थल
भारत की ऐतिहासिक महानगरी और पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता . इसे पूर्वी भारत का प्रवेश द्वार कहा जाता है . इस शहर को सिटी ऑफ़ जॉय के नाम से भी जाना जाता है.यहाँ रोमन स्थापत्य कला से बने बड़े-बड़े घर और बिल्डिंगे और सड़को पर चलती ट्रामें कॉलोनियल समय...
 ·  Translate
भारत की ऐतिहासिक महानगरी और पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता . इसे पूर्वी भारत का प्रवेश द्वार कहा जाता है . इस शहर को सिटी ऑफ़ जॉय के नाम से भी जाना जाता है.यहाँ रोमन स्थापत्य कला से बने बड़े-बड़े घर और बिल्डिंगे और सड़को पर ...
10
Jyoti Singh's profile photo
 
Is post ko to dekha hi nahi maine ye kalighat ka maa Kali ka mandir hai jahan kai baar main gayi hoon apne parivaar ke saath adbhut

Add a comment...
Have them in circles
1,250 people
Abhishek Singh's profile photo
mahesh zalki's profile photo
Zainul Hasan's profile photo
prahlad chauhan's profile photo
Shamsher mitter's profile photo
Alena Wilson's profile photo
diben singh's profile photo
Asha Joglekar's profile photo
hridayanand azad's profile photo
 
बहुत ही मनभावन गीत...बोल भी और संगीत  भी...
मेरा एक प्रयास ....
ये नीर कहाँ से बरसे है ...फिल्म प्रेम पर्वत '
.............
मूल गायिका  -लता जी...
कवर गायन--अल्पना वर्मा 
 ·  Translate
32
6
DINESH DUBEY's profile photoHarendra Chauhan's profile photoRia Sharma's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photo
10 comments
Add a comment...
 
'जाते हुए ये पल-छिन'
[Pic by me In Green Mubazarrah Al Ain- morning  at7 Am] समय अपनी गति से चलता रहता है .यह किसी का गुलाम नहीं है ,शुक्र है समय की गति को नियंत्रित करने का या अपने मन मुताबिक़ चला सकने का कोई यंत्र इंसान ने इजाद नहीं किया और न ही शायद कभी कर सकेगा. अंग्रेजी नए ...
 ·  Translate
8
DrZakir Ali Rajnish's profile photoDeep Thakore's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photo
4 comments
 
+Deep Thakore ji..aabhar aapne apna anubhav share kiya.Achcha lagaa.
Add a comment...
 
प्रेम /प्यार /मोहब्बत ! आह !
प्रेम /प्यार /मोहब्बत !आह! इस भाव के न जाने कितने नाम हैं .. कहते हैं ,कभी बेनाम भी रह जाया करती हैं कहानियाँ जिन में ये भाव प्रमुख होते हैं .. मगर क्या आज इस शब्द का कोई अर्थ बचा है ?क्या आज भी सच्चा प्रेम जैसा कुछ होता है? यहाँ उस अहसास के लिए इस्तमाल किय...
 ·  Translate
प्रेम /प्यार /मोहब्बत !आह! इस भाव के न जाने कितने नाम हैं .. कहते हैं ,कभी बेनाम भी रह जाया करती हैं कहानियाँ जिन में ये भाव प्रमुख होते हैं .. मगर क्या आज इस शब्द का कोई अर्थ बचा है ?क्या आज भी सच्चा प्रेम जैसा कुछ होता है? ...
7
Duli Chand Karel's profile photoAlpana Verma अल्पना वर्मा's profile photoSudhir Singh's profile photo
3 comments
 
PYAR KI PADTAL ,YUG NIKAL GAYA ABHI BHI MANUSHYA KAR RAHA HAI .
     ALPANA JI AAP MERI 300 WEN MITRA BANI HAIN ,MERI TARAF SE BADHAI SWAIKAREN ...................SUDHIR SINGH ,RASHTRIYA SANYOJAK ,MANZIL GROUP SAHITIK MANCH ,BHARATWARSH .
Add a comment...
3
Alpana Verma अल्पना वर्मा's profile photoAchint Priya's profile photo
2 comments
 
where are you nto seen these days
Add a comment...
People
Have them in circles
1,250 people
Abhishek Singh's profile photo
mahesh zalki's profile photo
Zainul Hasan's profile photo
prahlad chauhan's profile photo
Shamsher mitter's profile photo
Alena Wilson's profile photo
diben singh's profile photo
Asha Joglekar's profile photo
hridayanand azad's profile photo
Places
Map of the places this user has livedMap of the places this user has livedMap of the places this user has lived
Currently
India
Story
Tagline
Keep Smiling!
Introduction
मेरा परिचय मेरे ब्लॉग...Know me through my blogs...

Alpana Verma अल्पना वर्मा's +1's are the things they like, agree with, or want to recommend.
होली ....
alpana-verma.blogspot.com

आप सभी को इस रंगोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएँ!!!!!!! ====================================== =============================== ==================

माही
alpana-verma.blogspot.com

Alpana 's hindi blog,Hindi Blogger,Poems,Prose,Articles,Alpana Verma

अभिशप्त माया
alpana-verma.blogspot.com

ग़लती से क्लिक हुई छाया एक साए की आज सागर का किनारा ,गीली रेत,बहती हवा कुछ भी तो रूमानी नहीं था. बल्कि उमस ही अधिक उलझा रही थी माया और लक्ष्य

लकीर
alpana-verma.blogspot.com

*****बहुत दिनों बाद ब्लॉग की चुप्पी को तोडा जाए .:).............***** चित्र -साभार : शायक आलोक कुछ चित्र बोलते हैं और मुझे ऐसा ही एक चित्र य

नव वर्ष के स्वागत में ..
alpana-verma.blogspot.com

२०१४ आने वाला है इस अवसर पर सभी को नव वर्ष की अग्रिम शुभकामनाएँ! नववर्ष के स्वागत हेतु शौपिंग मॉल में सजावट - बर्फ का किला -दुबई मॉल में मॉल

दुनिया बनाने वाले क्या तेरे मन में ...
merekuchhgeet.blogspot.com

कवि शैलेन्द्र की फिल्म'तीसरी कसम' को सिनेमा नहीं सेलुलोइड पर लिखी कविता कहा गया है। यह एक ऐसी फिल्म है जिसका प्रभाव देर तक दिमाग पर रहता है।

रंग बदलता मौसम
alpana-verma.blogspot.com

एमिरात में तापमान ५० से ऊपर पहुँच गया है.कल के अखबार में हमारे शहर में ५१ डिग्री तापमान बताया गया है। घर के बाहर निकल कर ज़रा देर को आप छाया

मेरा खज़ाना /मेरा पुरस्कार
alpana-verma.blogspot.com

२०१२-१३ का शैक्षिक सत्र समाप्त होने को है,परीक्षाएँ शुरू हुई हैं या समाप्त होने को हैं या फिर समाप्त हो चुकी हैं। यहाँ एमिरात में अप्रैल के

अच्छा लगता है....
alpana-verma.blogspot.com

'व्योम के पार' ब्लॉग के अतिरिक्त मेरे अन्य दो ब्लॉग भी हैं जिनमें से एक है - 'भारत दर्शन' । भारत के विभिन्न दर्शनीय स्थलों की जानकारी जितना

आत्मालाप
alpana-verma.blogspot.com

----आत्मालाप ----- अमर्त्य कुछ है ? कुछ भी नहीं। .................. तुम और मैं ; 'हम' नहीं हैं। पर हम से कुछ कम नहीं हैं ................. ऐ

रानी सीपरी की मस्जिद
bharatparytan.blogspot.com

Picture is from-http://www.welcometoahmedabad.com/124/islamic-architecture.html शहर का नाम सुलतान अहमदशाह पर पडा था.कंकरिया और वस्त्रापुर ता

'मैं' ने 'तुम' से कहा मगर क्या और क्यों ?
alpana-verma.blogspot.com

"आज तक मेरी तरफ आँख उठाकर देखने की हिम्मत भी किसी दुश्मन की नही हुई .. लेकिन आज मुझे अपनों ने ही लाठियों से पीटा" !! ------- पूर्व जनरल वी क

शिक्षण-प्रशिक्षण
alpana-verma.blogspot.com

मेरे विचार में दो तरह के अध्यापक ही देर तक याद रह जाते हैं एक वे जो बहुत स्नेहमयी होते हैं और अच्छा पढ़ाते भी हैं दूसरे वे जो ज़रूरत से ज्या

दक्षिण का बनारस -'रामेश्वरम -एक पवित्र तीर्थ'
bharatparytan.blogspot.com

पहले यह भारत की भूमि से जुड़ा हुआ था लेकिन समय बीतता गया , सागर की लहरों ने इस कड़ी को काट दिया और यह अलग हो गया.लंका पर चढ़ाई करने से पूर्व

जब मैं 'मैं' नहीं 'हम' होता है...
alpana-verma.blogspot.com

इसी नतीजे पे पहुँचते हैं सभी आखिर में, हासिल ए सैर ए जहाँ कुछ नहीं हैरानी है . --------------------------------- जुस्तजू जिसकी थी उसको तो न

Vyom ke Paar...व्योम के पार: बहुमुखी प्रतिभासंपन्न होना एक शाप ...
alpana-verma.blogspot.com

Vyom ke Paar...व्योम के पार. सिर्फ अँधेरे नहीं उजाले भी हैं... Subscribe. RSS Feed. Add to Google Reader · View RSS Feed. Loading. Send feed

व्योम के पार:अल्पना वर्माका ब्लॉग-नवभारत टाइम्स
author.blogs.navbharattimes.com

जब आप के किसी ख़ास गुण की तारीफ़ की जाती है तो सुन कर खुश होना स्वाभाविक है.लेकिन जब आप बहुमुखी प्रतिभासंपन्न हों तो आप के गुण ,आप की काबिलि