Profile cover photo
Profile photo
Ajit Singh
🐚🐋🌾 आँखे' कितनी अजीब होती है, जब उठती है तो दुआ बन जाती है, जब झुकती है तो हया बन जाती है, उठ के झुकती है तो अदा बन जाती है झुक के उठती है तो खता बन जाती है, जब खुलती है तो दुनिया इसे रुलाती है, जब बंद होती है तो दुनिया को ये रुलाती है...!! "हर रिश्ते में विश्वास रहने दो; जुबान पर हर वक़्त मिठास रहने दो; यही तो अंदाज़ है जिंदगी जीने का; न खुद रहो उदास, न दूसरों को रहने दो..!" 😄👍😄👍😄👍😄👍😄👍
🐚🐋🌾 आँखे' कितनी अजीब होती है, जब उठती है तो दुआ बन जाती है, जब झुकती है तो हया बन जाती है, उठ के झुकती है तो अदा बन जाती है झुक के उठती है तो खता बन जाती है, जब खुलती है तो दुनिया इसे रुलाती है, जब बंद होती है तो दुनिया को ये रुलाती है...!! "हर रिश्ते में विश्वास रहने दो; जुबान पर हर वक़्त मिठास रहने दो; यही तो अंदाज़ है जिंदगी जीने का; न खुद रहो उदास, न दूसरों को रहने दो..!" 😄👍😄👍😄👍😄👍😄👍
About
Ajit's posts

Post has attachment

Post has attachment
Photo

Post has attachment

भारत में मुसलमानो के 800 वर्ष के शासन का झूठ

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded